रॉयल इंडियन एयर फोर्स जिसको आप नहीं जानते हैं !

आज दुनिया की टॉप वायु सेनाओं में से एक है भारतीय वायु सेना, भारत की शान हैं Indian air force जो कि बड़े से बड़े दुश्मन को भी मिनटों में धूल चटाने का दम खम रखती है । भारतीय वायु सेना की नींव 8 अक्टूबर 1932 को रखी गई थी। आजादी से पहले इसे रॉयल इंडियन एयर फोर्स कहते थे। अब हर साल 8 अक्टूबर को “वायु सेना दिवस” मनाया जाता है। इस दिन भारतीय लड़ाकू विमान और हेलीकॉप्टर से अपने करतब दिखाते हैं। वायु सेना दिवस की बड़ी परेड गाजियाबाद के हिंडन एयरबेस में होती है और इसके साथ साथ देश के हर वायु सेना सेंटर में इसे मनाया जाता है।

Indian air force day 8 October 

भारत के राष्ट्रपति भारतीय वायु सेना के कमांडर इन चीफ के रूप में कार्य करते है। वायु सेनाध्यक्ष, एयर चीफ मार्शल (ACM), एक चार सितारा कमांडर है और वायु सेना का नेतृत्व करते है। भारतीय वायु सेना में किसी भी समय एक से अधिक एयर चीफ मार्शल सेवा में कभी नहीं होते।
भारतीय वायु सेना की ताकत
1. भारतीय वायुसेना पूरी दुनिया में चौथी सबसे बड़ी है
2. वायुसेना के पास करीब 1350 लड़ाकू विमान और लगभग 170000 सैनिक हैं
3. देश के हर हिस्से में एयर फोर्स के बेस हैं
4. सियाचिन ग्लेशियर पर करीब 22000 फुट उचाईं पर भी वायुसेना का स्टेशन है
5. वायु सेना के देश के बाहर भी बेस स्टेशन हैं

देखिये एयर फ़ोर्स के मौके पर ये विडियो

Source:- Sudhir Choudhari Znews DNA

वायु सेना योगदान
अब तक हमारे पाकिस्तान के साथ चार युद्ध हो चुके हैं और चारों में ही इंंडियन एयरफोर्स ने दुश्मनों को करारा जवाब दिया है। अब तक भारतीय वायुसेना कई बड़े मिशन जैसे “ऑपरेशन विजय” ”ऑपरेशन मेघदूत” ”ऑपरेशन कैक्टस ” और ”ऑरकेषन पुमलाई” में शामिल रही है।

पढ़िए स्टीव जॉब्स की सफलता की कहानी  हिंदी में

आत्मविश्वास मजबूत करने के इन 10 नियम को जानिए 

भारत के राष्ट्रपति भारतीय वायु सेना के कमांडर इन चीफ के रूप में कार्य करते है। वायु सेनाध्यक्ष, एयर चीफ मार्शल (ACM), एक चार सितारा कमांडर है और वायु सेना का नेतृत्व करते है। भारतीय वायु सेना में किसी भी समय एक से अधिक एयर चीफ मार्शल सेवा में कभी नहीं होते।

Air Force Pared  Day
वायु सेना दिवस की शुरूआत परेड से होती है। सभी एयर फोर्स स्टेशनों पर परेड की जाती है। अपनी पूरी ड्रेस में बैंड की धुन पर एक सीध में होकर परेड की जाती है। जवान इस तरह से तालकदम रखते हैं कि हर कोई देख कर मंत्र मुग्ध हो जाता है।

भारतीय वायुसेना (Air Force) स्कीन कमेटी (Skeen Committee) द्वारा 1926 ई. में की गई सिफारिश के आधार पर 1  अप्रैल 1933  में भातीय वायुसेना का गठन किया गया। कुछ वापिटि (Wapiti) विमानों, क्रानवेल (Cranwel) प्रशिक्षित कुछ उड़ाकों तथा वायुसैनिकों (airmen) के छोटे से दल से इस सेना ने कार्यारंभ किया। गत 34 वर्षों में भारतीय वायुसेना ने विशेष विस्तार और प्रतिष्ठा अर्जित की है। आज भारतीय वायुसेना राष्ट्र की सुरक्षा की दृष्टि से सशस्त्र सेना का न केवल अपरिहार्य एवं पृथक्‌ अंग हैं, बल्कि यह आधुनिकतम वायुयानों से सुसज्जित एक विस्तारी वायुसेना का उड़ाकू बेड़ा बन गया है।

Airforce दिवस  के मोके पर इस पोस्ट को पुरे भारत ही नहीं, बल्कि पूरी दुनिया के लोगों के साथ शेयर जरुर कीजिये और अपने देश का नाम और ऊँचा कीजिये | और अधिक जानकारी हैं तो Edit कीजिये |

पढ़ते रहें..

📌 South indian Rajnikanth Biography and Success History
📌 स्टीव जॉब्स की सफलता की कहानी | गैराज से बिलियन तक का सफ़र

1 thought on “रॉयल इंडियन एयर फोर्स जिसको आप नहीं जानते हैं !

  1. भारतीय सेना में Air force का एक महत्वपूर्ण योगदान हैं.

Leave a Comment

*

code