Khalil Gibran Best Qutes in Hindi खलील जिब्रान

Khalil Gibran खलील जिब्रान

  • जाहिर वो है जो तब तक नहीं पता चलता जब तक कि कोई उसे सरलता से व्यक्त नहीं कर देता
  • आस्था एक अन्तरंग ज्ञान है , प्रमाण से परे .
  • ये मत भूलो की धरती तुम्हारे पैरों को महसूस करके खुश होती है और हवा तुम्हारे बालों से खेलना चाहती है.
  • प्रेम के बिना जीवन उस वृक्ष के सामान है जिसपे ना बहार आये ना फल हों .
  • काम प्रेम की अभिव्यक्ति है . और यदि आप प्रेम से नहीं सिर्फ बेमन से काम कर सकते हैं तो बेहतर होगा कि आप अपना काम छोड़ दें और मंदिर के गेट पर बैठ कर उनसे भीख लें जो ख़ुशी से काम करते हैं .
  • थोडा ज्ञान जो प्रयोग में लाया जाए वो बहुत सारा ज्ञान जो बेकार पड़ा है उससे कहीं अधिक मूल्यवान है .
  • आपके बच्चे आपके बच्चे नहीं हैं . वे जीवन की खुद के प्रति लालसा के पुत्र-पुत्रियाँ हैं . वे आपके द्वारा आये पर आपसे नहीं आये और हालांकि वो आपके साथ हैं पर फिर भी आपके नहीं हैं .
  • मुझे उस ज्ञान से दूर रखो जो रोता न हो , उस दर्शन से दूर रखो जो हँसता न हो और उस महानता से दूर रखो जो बच्चों के सामने सर न झुकाता हो .
  • आगे बढ़ी , कभी रुको मत , क्योंकि आगे बढ़ना पूर्णता है . आगे बढ़ो और रास्ते में आने वाले काँटों से डरो मत , क्योंकि वे सिर्फ गन्दा खून निकालते हैं .
  • यदि आप किसी से प्रेम करते हैं तो उसे जाने दें , क्योंकि यदि वो लौटते हैं तो वो हमेशा से आपके थे। और यदि नहीं लौटते हैं तो कभी आपके नहीं थे .
  • काव्य शब्दकोष के छीटों के साथ ख़ुशी , दर्द और आश्चर्य का सौदा है .
  • प्रेम और संदेह में कभी बात-चीत नहीं रही है .
  • अनंत काल का स्वयं को दर्पण में देखना ही सौन्दर्य है .
  • कष्ट सह कर ही सबसे मजबूतलोग निर्मित

Leave a Comment

*

code