Muhammad Yunus Best Qutes in Hindi मोहम्मद युनुस उद्धरण

मोहम्मद युनुस उद्धरण

  • मैं इस महिला जैसे लोगों को पैसे देना चाहता था ताकि वे साहूकारों से मुक्त हो कर अपने उत्पाद बाज़ार भाव पर बेंच सकें – जो की जितना व्यापारी दे रहा था उससे कहीं अधिक था।
  • मेरे अनुभव में, गरीब दुनिया के सबसे बड़ी उद्यमी हैं। हर दिन, जीवित रहने के लिए उन्हें कुछ नया करना पड़ता है। वे गरीब रह जाते हैं क्योंकि उनके पास अपनी रचनात्मकता को स्थायी आय में बदलने के अवसर नहीं मिलते।
  • पैसा पैसे को खींचता है। अगर वो आपके पास नहीं है , आप किसे और की दया पर रह रहे व्यक्ति द्वारा काम पर रखे जाने का इंतज़ार करते हैं। अगर आपके हाथ में पैसा है , आप उसका सबसे अच्छा उपयोग कर के आगे बढ़ने का प्रयास करते हैं। और वो आपके लिए आय पैदा करता है।
  • व्यापार समस्याओं को हल करने की बहुत सुंदर व्यवस्था है, लेकिन हम उस उद्देश्य के लिए इसका इस्तेमाल कभी नहीं करते। हम केवल पैसे बनाने के लिए इसका इस्तेमाल करते हैं। यह हमारे स्वार्थ को तो संतुष्ट करता है लेकिन सामूहिक हित को नहीं।
  • हम एक गलत पूंजीवादी व्यवस्था बना ली है। हम मनुष्य को एक आयामी मानते हैं , हम मानते हैं कि वे बस पैसा बनाते हैं , इसीलिए हमने पैसों पर केंद्रित एक दुनिया बना ली है।
  • मैंने ऐसे लोगों की लिस्ट बनायीं जिन्हे बस थोड़े से पैसों की ज़रुरत थी। और जब वो पूरी हो गयी तो उसमे ४२ नाम थे। उन्हें जो कुल पैसों की आवश्यकता थी वो थी २७ डॉलर। मैं हैरान रह गया।
  • अच्छी शिक्षा तक पहुँच ने मुझे उस बांग्लादेशी गाँव ,जहाँ मैं बड़ा हुआ था, से कहीं आगे जाने में सक्षम बना दिया।
  • खूब जियो ग्रामीण बैंक। गरीब महिलाओं की शक्ति प्रबल रहे।
  • गरीबी इंसानो पर एक बाहरी, कृत्रिम थोपी हुई चीज है ; यह मनुष्यों में जन्मजात नहीं है।
  • गरीबी और हमारे समाज में आर्थिक संकट की खामियों को दूर करने के लिए, हमें अपने सामाजिक जीवन की कल्पना करने की जरूरत है.हमें अपना दिमाग खोलना होगा, वो सोचना होगा जो कभी नहीं सोचा गया और एक सामाजिक उपन्यास लिखना होगा.हमें चीजों को करने के लिए उनकी कल्पना करनी होगी.अगर आप कल्पना नहीं करेंगे तो वो कभी नहीं होंगी।

Leave a Comment

*

code